दोस्तों  जीवन हमे बड़े भाग्य से मिलता है, इसलिए इसे हमे हँसते खेलते, और ख़ुश होकर ही बिताना चाहिये। हमारा जीवन हमे भगवान द्वारा दिया गया एक अनमोल उपहार है। अगर हम अपने जीवन को दुःखी मन से या परेशान होकर व्यतीत करेंगें तो हम भगवान द्वारा दिये गए इस अनमोल उपहार की अवहेलना करेंगे। इसलिए जीवन मे चाहे कैसी भी परिस्थिति हो और हमे चाहे कितनी भी मुसीबतों का सामना क्यों ना करना पड़े हमे हमेशा खुश रहने का प्रयास करना चाहिए। जीवन का दूसरा नाम ही संघर्ष है। बिना संघर्ष के जीवन मे कुछ नही मिलता है, और बिना संघर्ष के जीवन मे कोई आनन्द भी नहीं है।

Welcome to जिंदगी का सुकून


झगड़े किस घर में नहीं होते लेकिन रिश्तो को सही तरह से निभाने और समझ ने के लिए कठिन परिश्रम करना पड़ता है। फिर जब सारे रिश्ते एक होकर एक दूसरे की साहयता करे तो हर इंसान सुख का अनुभव करता है. ऐसा अनुभव एक के चहाने से भी हो सकता है,क्योंकि बूँद-बूँद करके ही सागर बनता है। ज़िन्दगी में आप भले ही कितना पैसा क्यों न कमाले लेकिन याद रहे सुकून कभी पैसो से नहीं खरीदा जा सकता।

दोस्तों जीवन मे उतार चढ़ाव तो हमेशा ही आते रहते है, इसलिये हमे इस बात का हमेशा ध्यान रखना चाहिए। धूप के बाद छाँव और दुख के बाद सुख यही जीवन का सार है।

हमे इस बात को अच्छी तरह से समझ लेना चाहिए कि जीवन मे कोई भी चीज़ हमेशा एक समान नही रहती हैं। वक़्त के साथ सब कुछ बदलता है।चाहे कितनी भी बड़ी मुसीबत हो और कैसा भी वक्त हो,सब कुछ एक समय के बाद जरूर बदलता है। ऐसे में दोस्तो कभी हार ना मानें, बस चलते रहे और अडिग होकर जीवन की राह में कदम बढ़ाते रहे। हम सब की ज़िन्दगीं में कभी ना कभी ऐसा समय जरूर आता है जब हमे काफ़ी दुखों का सामना करना पड़ता है।

दोस्तों हमारे जीवन में संगती का बहुत बड़ा असर पड़ता है इसलिए हमे अच्छी संगती करनी चाहिये। हर इंसान अपने अच्छे खयालो से ही जीवन में सुकून पा सकता है। गलत संगती करके हमारे ख्याल दूषित होते है जिसकी वजह से सब होते हुये भी हम सुख का अनुभव नहीं कर पाते। कवियत्री सोचती है कि असली सुकून दुख झेल कर ही मिलता है। क्योंकि सुख की कीमत हम तब तक नहीं समझ सकते जब तक हमने दुख का अनुभव न करा हो।

दोस्तों दुख भी ज़रूरी है जीवन में क्योंकि वो ही हमे मज़बूत बनाते है और उसके रहते ही हम सुकून की सच्चे दिल से कामना करते है और ईश्वर के दिखाये मार्ग को समझ पाते है। अपनी सोच पर नियंत्रण जो लगा पता है सच में वही इंसान ईश्वर की हर बात सुन, उन पर अमल कर पाता है।

इस समय हमें कुछ भी समझ नही आता है। हमे चारों तरफ़ से मुसीबत का सामना करना पड़ता है। ऐसे समय में अक्सर बहुत से लोग हार मान लेते है और जिस राह पर चल रहे होते है उससे पीछे क़दम खींच लेते हैं। लेकिन दोस्तो यही वो समय होता है जब हमें अपने हौसलें और ताक़त का परिचय देना होता है।इस समय जो व्यक्ति नहीं घबराता है और मुसीबतों का डटकर सामना करता है, वही जीवन मे सफ़लता की नई उचाईयों को प्राप्त करता है।

दोस्तो हम कई बार मुश्किल में पड़ने पर घबरा जाते है, और अपने लक्ष्य के रास्ते से पीछे कदम खींच लेते है। लेकिन इस समय अगर हमें किसी के द्वारा हार ना मानने का और आगे बढ़ने का साहस दिलाया जाता है तो हम एक बार फिर से उठ खड़े होते हैं और जीवन मे आगे बढ़ चलते हैं।

दोस्तों जीवन क्या है कोई न जाने जीवन क्या है कोई न जाने जो जाने पछताये जो जाने पछताये जो जाने पछताये जीवन क्या है जीवन क्या है कोई न जाने मति फूलो में छुपकर महाके और मुसकाये मति फूलो में छुपकर महाके और मुसकाये मति ही तलवार का लोहा बनकर खून बहाए एक मति मुझमे तुझमे रूप बदलती जाये जो जाने पछताये जीवन क्या है कोई न जाने माटी का पुतला ही मति के पुतले को तोड़े मति ही माटी से अपने रिश्ते नाते जोड़े जो होता है कोई रैन न पाए जो जाने पछताये पछताए जीवन क्या है कोई न जाने कोई न जाने जीवन क्या है कोई न जाने.

दोस्तों हम सब एक मनुष्य का जीवन व्यतीत कर रहे हैं। ऐसे में हम सबकी जिंदगी हमारे एक खास मायने रखते हैं। हम सब की उम्र भी सीमित है। ऐसा नहीं है कि हम काफी लंबे समय तक जिएंगे।


जैसा कि हम सब जानते हैं कि एक दिन हम सब की मौत हो जाएगी। ऐसे में यह हमारे लिए बहुत जरूरी हो जाता है कि हमारी जिंदगी चाहे छोटी हो या बड़ी, हम उसे खुशी के साथ जी सकें।

यह हम सबके लिए बहुत जरूरी होता है कि हम सब जिंदगी के जितने पल भी जी रहे हैं, उसे सुकून के साथ जिए।

दोस्तों ऐसे तो कहा जाता है कि जिंदगी के हर पल को ऐसे जीना चाहिए जैसे कि वह आपके लिए एक आखिरी पल हो। जिंदगी आपकी कब खत्म हो जाए इसका कोई भरोसा नहीं।

जिंदगी की परिभाषा देने के लिए इसे बड़े पर्दे पर भी उतारा गया है। जिंदगी को एक ऐसी पहेली कहा गया है, जिसे कभी सुलझाया नहीं जा सकता।

हमारी जिंदगी में कई लोग आते हैं और चले जाते हैं। हमें लोगों के आने-जाने के पलों को ऐसे जीना चाहिए कि वह बाद में हमारे लिए एक खूबसूरत याद बनकर रह जाए।

हर किसी की जिंदगी में सुख और दुख दोनों आते हैं, लेकिन जब आपकी जिंदगी में दुख आता है, तो हमें इस बात का पूरा भरोसा होना चाहिए कि दुख के पीछे सुख भी जरूर आएगा।

ऐसी सोच को पक्का बनाने के लिए हमें ऐसे विचार चाहिए होते हैं, जो हमारे मन को पूरी तरह प्रभावित करें। जो हमारे दिल में इस तरह उतर जाए, कि वह हमारे व्यवहार का हिस्सा बन जाए। दोस्तों कई बार आपने ऐसी सोच और विचारों के बारे में पढ़ा होगा जो आपको अंदर तक प्रभावित कर देते हैं। यह पढ़ कर ऐसा लगता है मानो जिंदगी बहुत खूबसूरत कहानी है।

“जिंदगी की भागदौड़ के बीच से में छोटी छोटी खुशियां चुराना सीखना चाहता हूं।

दोस्तों ज़िन्दगी में सुकून, अपनों के साथ से मिलता है।
परिश्रम की अग्नि में जलकर ही, उनका साथ मिलता है।
बिना कुछ करे ही, कैसे तुम किसी से उम्मीद लगाते हो?
अपनी तकलीफो के आगे,
तुम कैसे किसी और की, तकलीफे भूल जाते हो??
ज़िन्दगी में सुकून, अच्छी संगती से मिलता है।
उपजाऊ मिट्टी में पनप के ही, एक सुन्दर फूल खिलता है।
बंजर ज़मीन में तो, एक घास का तिनका का भी पनप नहीं पाता।
गलत संगती करके, अच्छो के मन में भी, ख्याल बुरा ही आता।

ज़िन्दगी में सुकून, तकलीफे झेल कर ही मिलता है।
तूफानों के आगे बस, कहाँ किसी का चलता है??
ख्याल रखता हर परिस्थिति में, जो अपने ख्यालों का ,
ईश्वर देता जवाब, फिर उसके सारे सवालों का ।

दोस्तों उम्मीद करता हूँ कि यह article आपको पसंद आया होगा , please कमेंट के द्वारा feedback जरूर दे। आपके किसी भी प्रश्न एवं सुझाओं का स्वागत है , अगर आप मेरे आर्टिकल को पसन्द करते है तो जरूर Follow करे ताकि आपको तुरंत मेरे आर्टिकल आपको मिल जाए। 

0 Comments