वास्तविक दुनिया में जीऐं

दोस्तों झूठी दुनिया (सोशल-मीडिया) पर नहीं वास्तविक दुनिया में दोस्त बनायें, ऐसे दोस्त जिनको आप अपने मन की बातें बता सकें, और जो आपको अच्छी सलाह दे सकें, सोशल मीडिया में आपके दोस्तों की लिस्ट बहुत बड़ी है , और रोज सोशल मीडिया फ्रेंड को Hallo , Hi करते हो , पर दोस्तों आपको पता है आपके जिंदगी में वास्तविक दोस्त कौन -कौन से है जो आपका दुःख में साथ दे रहे हैं , वर्तमान में युवा अकेलेपन का शिकार हो रहे है, और अकेलेपन में वो बहुत सी गलतियां कर देते है, जो नुक्सान पहुंचाती है उनके जीवन को।


                 "वास्तविक दुनिया में जीऐं"


Welcome to वास्तविक दुनिया में जीऐं

अधिकतर युवा आकर्षण वाले प्यार के दलदल में फंस जाते हैं, और समय बीतने के बाद पता चलता है कि वो अपने आप को इस दलदल से निकल ही नहीं पाते है।

नौकरी , परिवार , और जिम्मेदारिओं के बोझ में इंसान इतना उलझ गया है कि वो अपनी सभी खुशिओं को त्याग कर रहा है , और भी पता नहीं कौन कौन से दर्द अपने मन में में लिए घूम रहे हैं।

सोशल मीडिया में आपके दोस्तों की लिस्ट बहुत बड़ी है , और रोज सोशल मीडिया फ्रेंड को Hallo , Hi करते हो , पर दोस्तों आपको पता है आपके जिंदगी में वास्तविक दोस्त कौन -कौन से है जो आपका दुःख में साथ दे रहे हैं , वर्तमान में युवा अकेलेपन का शिकार हो रहे है, और अकेलेपन में वो बहुत सी गलतियां कर देते है, जो नुक्सान पहुंचाती है उनके जीवन को।

ऐसे सभी युवाओं से मेरी अपील है कि ,झूठी  दुनिया (सोशल-मीडिया) पर नहीं वास्तविक दुनिया में दोस्त बनायें,

ऐसे दोस्त जिनको आप अपने मन की बातें बता सकें, और जो आपको अच्छी सलाह दे सकें,

ऐसे दोस्त जिनके साथ आप खुल के हँस सकें,

और इतनी सी उम्र में ये चिंता लेना छोड़ दीजिए

खुल के जीना सीखिये,

अभी हँसना सीखिये,

याद रखिये ये समय अगर निकल गया, ये उम्र अगर निकल गई फिर कभी वापस नही आएगा, कभी भी नहीं..

क्या आप किसी Person या Problem ,की वजह से अपनी ज़िंदगी ही जीना ही छोड़ देंगे क्या,,,


और विश्वाश के साथ खुद से कहिये,,,' बस अब और नहीं अब से मुझे बस खुश रहना है, में सब कुछ कर सकता/सकती हूँ ।'दोस्तों बात तो बस इतनी सी है की परेशान वहीँ है जो शायद जीवन को सिर्फ अपने नजरिये से देखते हैं ,एक बार जरा अपनी जिंदगी को अपने नजरिये से आजाद करके तो देखो --------


Welcome to वास्तविक दुनिया में जीऐं


दोस्तों असल मे इस दुनिया को सफल व्यक्तियों की नहीं, खुश व्यक्तियों की बहुत ज्यादा जरुरत है। एक बात आपको कभी भी भूलनी नहीं चाहिए की आप जीवन में कितना भी , कुछ भी कर लो , उसका अंतिम परिणाम आत्मसंतुस्ती और स्वयं की ख़ुशी ही होता है, बस आपको पता लगाना है कि आप इनके पास आ रहे है या दूर हो रहे हैं।

जो नहीं हैं उसकी कामना करके , जो है उसे न गवाएं , क्योंकि जो आज है , उसकी भी कभी आप उम्मीद ही किया करते थे।
अगर ये तीन चीजें आपके जीवन में हैं तो आप जीवन में आगे बढ़ सकते हैं।
तो ऐ दोस्तों आपको पता चल ही जाएगा की जिंदगी का नाम अपने में सिमटना नहीं -----हर परिस्थिति को हंसकर सहना और उससे भी जीने की एक वजह ढूढ़ लेना ही जिंदगी हैं।

मै लौटना चाहता हूँ, उन दिनों
जब मुस्कराहटें हुआ करती थी बेवजह
और जहाँ में कोई गम न था
मै लौटना चाहता हूँ, उस वर्तमान में
जब न थे भविष्य के कोई सपने
और यादो का कोई दौर न था
मै लौटना चाहता हूँ, वक्त के उस हल्केपन में
जहाँ खुशियों का कोई बोझ न था।

दोस्तों जीवन को अपने नजरिये से देखिये , जरूरी नहीं की जीवन जीने का जो तरीका आप अपने आस पास देख रहे हैं, वही सच्चा और अच्छा हो।
आपके लिए जीवन के मायने कुछ और हो सकते हैं , और हो सकता है कि आपका वाला तरीका अधिक बेहतर हो , और समाज को एक नयी दिशा भी दे जाए।

न जाने किस चाहत की, उम्र भर तलाश रही
एक पूरी हुई , तो दूसरी की आस रही।
ये संघर्ष भी एक दिन ख़तम होगा
तेरी जीत होगी, और जश्न भी होगा

दोस्तों हममे में से बहुत लोग ऐसे हैं ,जिनके पास सफल होने के लिए सभी साधन हैं ,पर फिर भी सफलता हाथ नहीं आती है , आपको पता है ऐसा क्यों होता है। अगर आपके पास ये तीन चीजे है तो आप जरूर सफल हो सकते हैं---उत्साह , सही संसाधन और सही मार्गदर्शन।

दोस्तों उम्मीद करता हूँ कि यह article आपको पसंद आया होगा , please कमेंट के द्वारा feedback जरूर दे। आपके किसी भी प्रश्न एवं सुझाओं का स्वागत है , अगर आप मेरे आर्टिकल को पसन्द करते है तो जरूर Follow करे ताकि आपको तुरंत मेरे आर्टिकल आपको मिल जाए। 



धन्यवाद                                       

No comments:

Powered by Blogger.