बदलाव क्यों जरूरी है

नमस्कार दोस्तों इस ब्लॉग में आपका स्वागत है। दोस्तों जीवन में अगर आगे बढ़ना है तो  बदलाव बहुत जरूरी है तो दोस्तों आज हम इसी topic पैर अपना आलेख लिखने जा रहा हूँ। 

बदलाव क्यों जरूरी है?

Welcome बदलाव क्यों जरूरी है


दोस्तों बचपन आता है, जवानी आती है, फिर बुढापा आ घेरता है जो सबसे खतरनाक होता है,बहुत सी चीजें जो हमारे हाथ में थी वो हमारे हाथ में नहीं रहती। और अन्तिम यात्रा का भी समय आ पहुँचता है। फिर विदाई हो जाती है दुनिया से।

यह सब काम अपने समय पर होते रहते हैं। इन को हम नहीं रोक सकते हैं।

मगर इस दुनिया में बहुत से लोग ऐसे हैं जो इस बदलाव को सहन नहीं कर पाते और अपनी पुरानी जिन्दगी में ही जीना चाहते हैं। जो कि मुमकिन नहीं होता है, तब वो पीछे रह जाते हैं। जो समय पीछे बीत गया वो अब आगे नहीं आएगा तो दोस्तों यही बदलाव है। 

दोस्तों इसे हम इस तरह भी कह सकते हैं कि जो अपने को वक़्त के साथ नहीं बदलता उसे दुनियां भूल जाती है। कुछ ऐसी मिसालें हैं इस दुनिया में जिन्होने अपने को नहीं बदला। तो दुनियां ने उन्हें भुला दिया।

बदलाव प्रक्रति का एक नियम है जिसे जो जितनी जल्दी स्वीकार कर ले उसके लिये वो बेहतर होता है। वरना समय के बीतने के साथ व्यक्ति अपने को अकेला पाता है।

दोस्तों बहुत सारी कम्पनिया मार्केट में आयी और वो समय के अनुसार अपने प्रोडक्ट को बदलाव नहीं क्या, वो आगे कंपनी बंद हो गयी या loss पर हैं। 

दोस्तों जीवन में बदलाव यही प्रकृति का सबसे बड़ा सत्य है। जिस तरह बहते पानी को अगर रोक दिया जाए। तो वह खराब होने लगेगा। उसी तरह जीवन में बदलाव नहीं होगा तो जीवन बेकार हो जाएगा।

क्योंकि बदलाव ही जीवन में सबसे बड़ा सत्य है। और हमें इस सत्य को मानना पड़ेगा। अपनी सोच में बदलाव हमें अपनी सोच में बदलाव करना पड़ेगा।
 

जीवन में बदलाव क्यों आवश्यक है?


समय के साथ बदलाव बहुत जरूरी है। आपके पहचान में कोई कॉर्पोरेट सेक्टर या बैंक में काम करने वाला व्यक्ति हो जो बहुत सालो से उसी जगह काम कर रहा हैबहुत  से लोग यही कहेंगे कि वो ऊब गए है इस ज़िन्दगी से। अगर आप देखे तो एक बहती नदी के तुलना में एक तालाब का पानी ज़्यादा दूषित होता है। इसी तरह हमारी ज़िंदगी है, अगर हमारी ज़िंदगी एक जगह रुक जाए तो हमारा हाल भी किसी तालाब की तरह हो जाएगा। इसलिए बदलाव आवश्यक है

हम अपने आर्थिक और सामाजिक स्थिति में बदलाव चाहते हैं। ज्ञान के क्षेत्र में हम और अधिक ज्ञान पाना चाहते है, ये अधिक ज्ञान पाना भी बदलाव ही है। बदलाव को बेहतर से और बेहतर बनने के रूप में भी देख सकते हैं और गिरावट के रूप में भी। सकारात्मक बदलाव यानी बेहतरी की और आगे बढ़ना जरूरी है, यह मनुष्य का मूल स्वभाव है यह पृकृति का मूल स्वभाव है।

बदलाव जीवन में नयापन लाता है, कुछ उत्साह भरता है, कुछ उमंग लाता है और खुशियों की चाभी होता है। समय के साथ जीवन में परिवर्तन आना निश्चित है। परिवर्तन नहीं आएगा तो जीवन में नीरसता आएगी। अब ये आप पर निर्भर करता है कि आप जीवन से क्या चाहते हैं?

परिवर्तन जीवन का नियम है। समय के साथ सब कुछ बदलता है। उस बदलाव को कोई रोक नहीं सकता है। जीवन में प्रसन्नता, आनंद और संतोष उसी को मिलता है जो इस सत्य को स्वीकार करता है।

स्वास्थ्य और खुश रहने के लिये जीवन मे बदलाव बहुत जरुरी है।जैसे आप रोज कपड़े बदलते है,अलग तरह का खाना खाते है, सुबह सैर को जाते है तो आपका शरीर स्वस्थ रहता है।वैज्ञानिक कहते हैं अगर हम रोज एक सा काम करते रहे तो brain का development रुक जता है, brain के development के लिये हमे काम के तरीको मे बदलाव करते रहना चाहिये।

जिस प्रकार एक ही प्रकार के भोजन से मन ऊबने लगता है,भिन्न-भिन्न मिष्ठान्न-पकवान खाने की इच्छा होती है वैसे ही जिंदगी बदलाव भी जरूरी है। 


बदलाव के उपाय:


दोस्तों जीवन में आपको अनोखे बदलाव लाने के लिए कुछ लिख रहा हूँ, आप ध्यान से पढ़िए:

(1) अगर किसी इंसान को अपनी जिंदगी बदलने हो तो बस छोटे-मोटे बदलाव लाने पड़ते हैं अपनी जिंदगी में दोस्तों सबसे पहला बदलाव होता है सकारात्मक विचारों का सबके लिए अच्छा सोचे, अच्छा करे, तो इससे क्या होगा आपके साथ अच्छा होने लगेगा।

(2) अगर किसी इंसान को अपनी जिंदगी बदलने हो तो बस सबकी जितना हो सके मदद करें आपका मन खुश रहने लगेगा जब मन खुश रहेगा तो आपका स्वास्थ्य अच्छा रहेगा।

(3) दिल करे गाने का तो खूब जोर जोर से गए। यह मत सोचिये हमारे राग आ रहे हैं कि नहीं। सुर हो आपके अंदर या आप बेसुरे, आपका दिल है तो खुलकर गाए खुलकर हंसे आपको अच्छा महसूस होगा।

(4) अपने रिश्ते को बनाए रखने के लिए थोड़ा झुक जाए छोटों को प्यार करें, बड़े को सम्मान दें।

(5) अपनी दिनचर्या में थोड़ा सा बदलाव कर ले सुबह जल्दी जगे रात को जल्दी सो जय जाएं।

(6) सुबह का नाश्ता सही समय पर ज्यादा करें दोपहर का लंच माध्यम करें रात का डिनर एकदम हल्का करें जिससे नींद अच्छी आएगी और नींद टाइम से खुलेगी।

(7) थोड़ा सा अपनी जिंदगी में जितना हो सके एक्सरसाइज, योगा अपनाएं अनुलोम-विलोम, कपाल भारती, थोड़ा सुबह सुबह मॉर्निंग वॉक।

(8) दोस्तों एक बहुत जरूरी बात जीवन को थोड़ा अध्यात्मिक भी बनाएं।

(9) दोस्तों प्रेरणादायक कुछ किताबें पढ़े, भले ही सारे दिन में दो चार लाइन ही पढ़ें। सोने से पहले कोशिश करें जरूर एक अच्छा सा लेख पढ़कर सोए।

(10) दोस्तों अपने नजरिये को बदलने की कोशिश करो, नजरिए में बस यही छोटी-छोटी बातें हैं जो अपनी जिंदगी को बहुत ज्यादा बदल देती है और बहुत अच्छी जिंदगी बना देती है।

(11) दोस्तों देखिए बड़ी बड़ी बाते तो नहीं पता मुझे लेकिन जिंदगी आप सिर्फ खुद नहीं बदल सकते इसके लिए आपके आस पास कावातावरण भी बहुतमहत्वपूर्ण रखता है। आपके परिवार का साथ भी बहुत जरूरी है।

(12) दोस्तों सिर्फ आप ही सोच सकते हैं और उसके लिए एक तरकीब, कोई नक्सा भीतैयार कर सकते हैं कि में ऐसे रोज काम करूँगा और मुझे ये फल मिलेगा। सब कुछ हो सकता है इस दुनिया में बस शर्त यही है अपने का साथ रहे।

(13) दोस्तों अगर एक मनुष्य को अपनी जिंदगी में बदलाव लाना है तो उसे वही काम करना पड़ेगा जो 50% प्रतिशत लोग नही करते हैं वो 50% क्या नहीं करते हैं, वो आपको ही समझना पड़ेगा।

(14) दोस्तों अपने आपको हमेशा update रखना होगा।

(15) दोस्तों आपको हमेशा सीखने की लालसा रखना होगा। सीखना बंद तो सफलता बंद।

(16) दोस्तों आपने कोई गलती की है तो आप उस गलती को माने और सही समय पर उस गलती को सुधर कर ले, कोशिश करो की वो गलती आगे न करो।

(17) दोस्तों रोज आप मोटिवेशनल बुक पढ़ना शुरू कर दो।

(18) दोस्तों अपने चारों तरफ पॉजिटिववातावरण बना कर रखो।

(19) सबसे पहले आपको अपनी सोच पर ध्यान देना चाहिए, फिर सही आदतो को अमल में लाना चाहिए और अपना संपर्क सकारात्मक समूह के साथ रखना चाहिए। जिंदगी पूरी बदले या ना बदले पर आपको आपने में सकारात्मक प्रभाव जरूर दिखाई देगा।


तो दोस्तों आप इस बदलाव से आप अपनी जिंदगी बदल सकते हो।


दोस्तों मेरा आलेख आपको कैसा लगा, जरूर बताएं।


दोस्तों आपके किसी भी प्रश्न एवं सुझाओं का स्वागत है , अगर आप मेरे आर्टिकल को पसन्द करते है तो जरूर Follow करे ताकि आपको तुरंत मेरे आर्टिकल आपको मिल जाए।


धन्यवाद

No comments:

Powered by Blogger.